Join Telegram Group Join Now
WhatsApp Group Join Now
Haryana News

हरियाणा के इस जिले को इस साल मिलेगी रेलवे एलिवेटेड ट्रैक की सौगात, सिर्फ 30 प्रतिशत बचा काम

कुरूक्षेत्र :- इस साल कुरूक्षेत्रवासियों को रेलवे एलिवेटेड ट्रैक की सौगात मिलेगी. जून 2023 में केंद्र और हरियाणा सरकार रेलवे के एलिवेटेड ट्रैक को कुरुक्षेत्र को सौंप देगी. यह प्रोजेक्ट जून 2023 तक पूरा हो जाएगा. प्रोजेक्ट का करीब 70 फीसदी काम पूरा हो चुका है. इतना ही नहीं, थानेसर शहर के पुराने रेलवे स्टेशन का जीर्णोद्धार कर सौंदर्यीकरण का कार्य भी किया जायेगा. इस रेलवे स्टेशन को भी एलिवेटेड स्टेशन बनाया जाएगा. इस परियोजना के तहत 1,296 पिलरों का निर्माण किया जाएगा.

 

लोगों के लिए बड़ी सौगात

परियोजना एचआरआईडीसी की देखरेख में आईएससी प्रोजेक्ट्स प्राइवेट लिमिटेड पुणे की एजेंसी द्वारा निष्पादित की जा रही है. एचआरआईडीसी के प्रबंधक अमर सिंह राठौड़ एवं सहायक प्रबंधक सिविल जेपी लाल, एजेंसी के परियोजना प्रबंधक संदीप गौतम की टीम की देखरेख में निर्धारित समयावधि में परियोजना को पूरा किया जाएगा.

लोक निर्माण विभाग द्वारा वर्ष 2016 में झांसा रोड रेलवे गेट व पिहोवा रोड थर्ड गेट पर रेलवे ओवरब्रिज बनाने का प्रस्ताव तैयार किया गया था. इन दोनों आरओबी के बनने के बाद भी तीन रेलवे फाटकों पर फिर से जाम की स्थिति पैदा हो जाती है और लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ता है.

केवल 30 प्रतिशत काम बचा

थानेसर के विधायक सुभाष सुधा ने एलिवेटेड रेल ट्रैक परियोजना के तहत 1,296 फाउंडेशन पिलर बनाए जाने है. यह काम लगभग पूरा हो चुका है. साथ ही, 450 बीम में से सबसे ज्यादा बीम खड़े किए जा चुके हैं. इस तरह कुल काम का करीब 70 फीसदी काम पूरा हो चुका है. इस प्रोजेक्ट को बनाने के लिए जून 2023 तक दिन-रात काम किया जाएगा.

इस प्रोजेक्ट से लाखों लोगों को फायदा होगा. इस प्रोजेक्ट के पूरा होने के बाद शहरवासियों को 5 गेट से राहत मिलेगी. जाम की समस्या खत्म होने के साथ ही लोगों को आर्थिक रूप से भी फायदा होगा.

5 फाटकों पर जाम से मिलेगी राहत

सबसे बड़ी बात यह है कि झांसा रोड व थर्ड गेट पर आरओबी बनने से शहर के दुकानदारों व व्यापारियों को सबसे ज्यादा नुकसान होता. उनके कारोबार पर काफी असर पड़ता. इसी बात को ध्यान में रखते हुए योजना बनाई गई है और ऐलिवेटेड रेल ट्रैक का काम किया. इसके लिए विशेषज्ञों से सलाह ली और अनुमानित लागत का पता लगाया तो आश्चर्यजनक तथ्य सामने आए कि जितना बजट 2 आरओबी पर खर्च किया जाना था, उतना ही बजट एलिवेटेड रेल ट्रैक प्रोजेक्ट पर लगना है. इसके बनने से शहर के लोगों को पांच फाटकों से मुक्ति मिलेगी और शहर का सौंदर्यीकरण भी होगा.

haryananewstoday

मस्कार दोस्तों मेरा नाम सनी सिंह है. मैं हरियाणा न्यूज़ टुडे वेबसाइट पर एडमिन टीम से हूँ. मैंने मास्स कम्युनिकेशन से MBA और दिल्ली यूनिवर्सिटी से जर्नलिज्म का कोर्स किया हुआ है. मैंने खबरी एक्सप्रेस में भी बतौर कंटेंट राइटर काम किया है. फ़िलहाल मैं रियाणा न्यूज़ टुडे पर आपके लिए सभी स्पेशल केटेगरी की पोस्ट लिखता हूँ. आप मेरी पोस्ट को ऐसे ही प्यार देते रहे. धन्यवाद

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button