Join Telegram Group Join Now
WhatsApp Group Join Now
Chandigarh News

Ration Card : कितने रंग के होते है राशन कार्ड पीला, हरा- गुलाबी, जाने किस कार्ड पर मिलता है कितना राशन

चंडीगढ़ :- हरियाणा सरकार के द्वारा गरीब परिवारों को विभिन्न योजनाओं से जोड़ने के लिए परिवार पहचान पत्र के माध्यम से नए Ration Card बनाए जा रहे हैं. इन राशन कार्डो के माध्यम से सरकार गरीब परिवारों को विभिन्न सरकारी योजनाओं से जोड़ेगी. राज्य सरकार के द्वारा जारी किए गए Ration Card का प्रयोग Passport, ड्राइविंग लाइसेंस, लाइफ इंश्योरेंस सहित Address प्रूफ के रूप में भी होता है. राज्य सरकार की तरफ से 4 रंग सफेद, नीला, पीला, गुलाबी रंग के राशन Card को मान्यता दी गई है.

सफेद Ration Card से मिलने वाली सुविधाएं

बता दे कि राज्य सरकार के द्वारा 4 तरह के राशन कार्डो को मान्यता दी गई है. प्रत्येक रंग के राशन कार्ड पर उपभोक्ताओं को अलग- अलग तरह की सुविधाएं दी जाती हैं. सफेद (White) राशन कार्ड आर्थिक रूप से Rich परिवारो का बनाया जाता है. ऐसे परिवारों को सरकार के द्वारा दी जाने वाली खाद्यान्न सामग्री और सब्सिडी संबंधी सुविधाओं की आवश्यकता नहीं होती. White कार्ड वाले उपभोक्ता अधिकतर इन कार्डो का इस्तेमाल Identity और Address प्रूफ के रूप में करते है.

गुलाबी Ration Card से मिलने वाली सुविधाएं

राज्य सरकार के द्वारा गुलाबी राशन कार्ड उन परिवारों को दिया जाता है जिनकी वार्षिक आय गरीबी रेखा की सीमा रेखा से अधिक होती है. शहरी क्षेत्रों में जिनकी वार्षिक आय 11,850 रुपये और ग्रामीण क्षेत्रों में 6,400 रुपये है, ऐसे लोगों को गुलाबी (Pink) कार्ड जारी किए जाते हैं. इस रंग के कार्ड वाले कार्डधारकों को सरकार के द्वारा Subsidy व अलग-अलग तरह की खाद्यान्न सामग्री दी जाती है. इसके अलावा सरकार द्वारा चलाई गई योजनाओं का राशन कार्ड के माध्यम से लाभ मिलता है.

नीले और अंत्योदय अन्न योजना Ration Card से मिलने वाली सुविधाएं

राज्य सरकार के द्वारा सबसे गरीब परिवारों को ये कार्ड जारी किए जाते हैं. ऐसे कार्ड उन परिवारों के बनाए जाते हैं, जिनकी Income का कोई स्थायी स्त्रोत नहीं होता है. इस Card का लाभ बेरोजगारो, मजदूरों और बुजुर्गो को मिलता है. इस कार्ड पर भी गरीब परिवारों को Subsidy पर अनाज दिया जाता है. इसके अलावा नीले (Blue) रंग वाले Card गरीबी रेखा से नीचे जीवनयापन करने वाले परिवारों को जारी किया जाता है. कुछ राज्यों में इसका रंग हरा या पीला हो सकता है. इसमें उपभोक्ताओं को सब्सिडी वाले अनाज के साथ- साथ केरोसिन भी दिया जाता है.

haryananewstoday

मस्कार दोस्तों मेरा नाम सनी सिंह है. मैं हरियाणा न्यूज़ टुडे वेबसाइट पर एडमिन टीम से हूँ. मैंने मास्स कम्युनिकेशन से MBA और दिल्ली यूनिवर्सिटी से जर्नलिज्म का कोर्स किया हुआ है. मैंने खबरी एक्सप्रेस में भी बतौर कंटेंट राइटर काम किया है. फ़िलहाल मैं रियाणा न्यूज़ टुडे पर आपके लिए सभी स्पेशल केटेगरी की पोस्ट लिखता हूँ. आप मेरी पोस्ट को ऐसे ही प्यार देते रहे. धन्यवाद

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button