पदोन्नति की परीक्षा में फेल हुए हिसार मंडल के पुलिस कर्मचारी, केवल 77 कर्मचारी हुए पास

हिसार । हिसार मंडल के पुलिस कर्मचारियों की पदोन्नति के लिए गुजवि के कंप्यूटर व इनफॉर्मेटिक्स सेंटर में बी -1 परीक्षा का आयोजन किया गया. बता दें कि इस परीक्षा का परिणाम भी साथ ही जारी कर दिया गया. ऑनलाइन परीक्षा में उत्पन्न कर्मचारियों की आउटडोर परीक्षा होनी अभी बाकी है. मंडल के पास जिलो हिसार,हांसी, जींद,सिरसा और फतेहाबाद से 898 पुलिस कर्मचारी इस परीक्षा के लिए योग्य घोषित किए गए थे, इनमें से 886 पुलिस कर्मचारियों ने फाइनल परीक्षा में भाग लिया. हिसार रेंज के आईजी राकेश कुमार आर्य ने परीक्षा के निष्पक्ष आयोजन के लिए स्वयं की देखरेख में कमेटी का गठन किया.

पदोन्नति के लिए किया गया परीक्षा का आयोजन 

बता दें कि कमेटी में हांसी की पुलिस अधीक्षक निकिता गहलोत तथा तृतीय वाहिनी हिसार के कमांडेंट सुमित कुमार को सदस्य बनाया गया. आईजी राकेश कुमार आर्य ने हांसी की एसपी निकिता गहलोत के साथ परीक्षा केंद्र का दौरा किया. जिला पुलिस हिसार से 245 कर्मचारी परीक्षा में बैठे, हांसी से 151, जींद से 160, सिरसा से 173 तथा फतेहाबाद से 157 पुलिस कर्मचारियों ने परीक्षा दी. ऑनलाइन परीक्षा में केवल 77 पुलिस कर्मचारी उत्तीर्ण हुए हैं, जिनमें 13 महिला पुलिस कर्मचारी हैं. परीक्षा में उत्तीर्ण कर्मचारियो में हिसार के 27, सिरसा के 19, जींद के 19, पुलिस जिला हांसी के 7 तथा फतेहाबाद के 5 कर्मचारी है.

यह भी पढ़े   हांसी में 92 वर्षीय वृद्धा को ज़ालिम बहू ने पीटकर घर से निकाला, वीडियो वायरल

B1 परीक्षा के लिए यह थी शर्ते

पुलिस कर्मचारियों का अच्छा सर्विस रिकॉर्ड सहित कम से कम 5 वर्ष का सेवाकाल जरूरी है. b1 में फाइनल सिलेक्शन उपरांत पुलिस कर्मचारियों को 6 महीने के लिए पुलिस अकादमी मधुबन या अन्य पुलिस ट्रेनिंग सेंटर में कोर्स के लिए भेजा जाता है. वही ट्रेनिंग के दौरान उन्हें कानूनी पढ़ाई के साथ समाज में कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए प्रभावी भूमिका,  केसो का अनुसंधान, निष्पक्ष कार्यशैली के साथ मानवीय मूल्यों का पाठ पढ़ाया जाता है. ऑनलाइन परीक्षा के बाद आउटडोर परीक्षा होंगी.  दोनों परीक्षाओं तथा सर्विस रिकॉर्ड के नंबर सहित परिणाम पुलिस मुख्यालय पंचकूला भेजा जाएगा. जहां प्रदेश स्तरीय वरिष्ठता सूची में  उत्तीर्ण  वाले पुलिसकर्मियों का नाम दर्ज किया जाएगा.

यह भी पढ़े   फिर गूंजने लगी है आंगन में बेटियों की किलकारिया, झज्जर के 17 गांवो का लिंगानुपात बढ़ा

हरियाणा से जुड़े सभी खबर सबसे पहले पाने के लिए

अभी हमारे व्हाट्सप्प ग्रुप को ज्वाइन करे