जानिये कैसे काम करती है, हरियाणा पुलिस की डायल 112 की टीमें

जींद । जब छोटी-मोटी घटनाओं का फोन पुलिस थाने में जाता है तो पुलिस इन शिकायतों पर गौर नहीं करती थी. जिसकी वजह से अपराधिक लोगों के हौसले बुलंद हो जाते थे, लेकिन अब ऐसा नहीं होगा, क्योंकि अगर शिकायत 112 पर की जाती है तो पुलिस से पहले इमरजेंसी रिस्पांस व्हीकल मौके पर होगा. 112 के कर्मचारियों की जांच के बाद ही आगे की कार्रवाई की जाएगी. यह भी कहा जा सकता है कि अब हर शिकायत पर हरियाणा पुलिस द्वारा तुरंत कार्रवाई की जाएगी.

पुलिस के डायल 112 की टीमें इस तरह करती है कार्य

बता दें कि शिकायतकर्ता द्वारा की गई कॉल के महज 15 मिनट पर इमरजेंसी रिस्पांस व्हीकल मौके पर पहुंच जाएगी. इसके लिए इस व्हीकल को पंचकूला से शिकायतकर्ता की लोकेशन भेजी जाएगी और फिर जीपीएस सिस्टम के जरिए घटनास्थल पर पहुंचा जायेगा. इस दौरान शिकायतकर्ता ने कहा कि हरियाणा पुलिस की यह सुविधा लोगों के अब तक की सबसे बेहतर पुलिस सुविधा है. क्योंकि अब से पहले ज़ब  फोन करते थे तो पुलिसकर्मी फोन पर गौर नहीं करते थे. बार-बार फोन करने के बाद भी पुलिस हमेशा देरी से पहुंचती थी.

यह भी पढ़े   1 जून से बदल रहे है आपके जीवन से जुड़े बैंक और गैस सिलेंडरों के ये नियम, जाने

इसकी वजह से अपराधिक घटनाएं बढ़ रही थी. इंस्पेक्टर सोमवीर ढाका ने बताया कि विभाग द्वारा प्रत्येक थाने को दो-दो गाड़ियां मुहैया करवाई गई है. नरवाना क्षेत्र के गढ़ी थाना, सदर थाना, व शहर थाना को मिलाकर कुल 6 गाड़ियां तैनात की गई है. उन्होंने बताया कि दिन व रात 2 शिफ्टो में 112 की टीम में काम करती है. इसलिए गांव व शहर में अलग-अलग पॉइंट निर्धारित किए गए हैं. ग्रामीण क्षेत्रों की शिकायत के लिए 20 से 25 मिनट का समय  विभाग द्वारा निर्धारित किया गया है.

यह भी पढ़े   आज से लागू होगी WhatsApp की नई प्राइवेसी पॉलिसी, लागू न करने पर ये फीचर हो जाएंगे बंद

हरियाणा से जुड़े सभी खबर सबसे पहले पाने के लिए

अभी हमारे व्हाट्सप्प ग्रुप को ज्वाइन करे