Join Telegram Group Join Now
WhatsApp Group Join Now
Haryana News

हरियाणा के इस जिले में बनेगा देश का दूसरा ESI सुपर स्पेशियलिटी हॉस्पिटल

फरीदाबाद :- हरियाणा, दिल्ली- NCR सहित पूरे उत्तर भारत के लोगों के लिए बड़ी खुशखबरी है. हरियाणा स्थित औद्योगिक नगरी फरीदाबाद को देश के दूसरे ESI सुपर स्पेशियलिटी हॉस्पिटल की सौगात मिलने जा रही है. इस अस्पताल को बनाने के प्रस्ताव को ESI कॉरपोरेशन मुख्यालय से सैद्धांतिक तौर पर मंजूरी मिल चुकी है. इस अस्पताल के बनने से दिल्ली- एनसीआर क्षेत्र समेत पूरे उत्तर भारत के लोगों को फायदा पहुंचेगा.

एसआई कार्ड धारकों की संख्या का आंकड़ा 25 लाख

 

इस अस्पताल के बनने से फरीदाबाद के ईएसआई मेडिकल कॉलेज और अस्पताल में आने वाले सीरियस मरीजों को रेफर करने के झंझट से मुक्ति मिलेगी. बता दें कि हरियाणा में ईएसआई कार्ड धारकों की संख्या का आंकड़ा 25 लाख है और एक कार्ड धारक के कार्ड पर उसके अलावा परिवार के औसतन तीन से चार मेंबर जुड़े होते हैं.

फरीदाबाद ईएसआई मेडिकल कॉलेज के डॉ. असीम दास ने बताया कि मौजूदा समय में किसी कार्डधारक मरीज को जब सुपर स्पेशियलिटी सेवाओं की जरूरत पड़ती है तो उसे ईएसआई कॉरपोरेशन के पैनल के निजी अस्पतालों में भेजा जाता है लेकिन अब फरीदाबाद में ही सुपर स्पेशियलिटी हॉस्पिटल बनने से ईएसआई कार्ड धारकों को इलाज के लिए कही भटकने की जरूरत नहीं पड़ेगी.

डॉ. असीम दास ने बताया कि अभी तक देश का इकलौता ईएसआई सुपर स्पेशियलिटी हॉस्पिटल हैदराबाद में स्थित है, जिसका फायदा दक्षिण भारत के ईएसआई कार्ड धारकों को मिल रहा है लेकिन उत्तर भारत के ईएसआई कार्ड धारकों को अभी तक इस सुविधा का लाभ नहीं मिल पा रहा था. ऐसे में अब फरीदाबाद में ईएसआई सुपर स्पेशियलिटी हॉस्पिटल बनने से न केवल हरियाणा और दिल्ली- एनसीआर बल्कि समूचे उत्तर भारत के राज्यों उत्तर प्रदेश, हिमाचल प्रदेश, पंजाब, राजस्थान और उत्तराखंड के कार्ड धारकों को मिलेगा.

मेडिकल कॉलेज की पांच एकड़ जमीन पर होगा निर्माण

ईएसआई मेडिकल कॉलेज, फरीदाबाद के एक अधिकारी ने बताया कि यहां परिसर में खाली पड़ी 5 एकड़ भूमि पर सुपर स्पेशियलिटी हॉस्पिटल का निर्माण किया जाएगा. उन्होंने बताया कि फरीदाबाद के ईएसआई अस्पताल में सुपर स्पेशियलिटी श्रेणी की कई सेवाएं जैसे नेफ्रोलॉजी, ऑन्कोलॉजी और कार्डियोलॉजी विभाग होने के साथ डायलिसिस की सुविधा भी पहले से है.

मेडिकल कॉलेज के अधिकारी ने बताया कि जल्‍द ही यहां पर किडनी ट्रांसप्लांट, ओपन हार्ट सर्जरी और कॉर्निया ट्रांसप्लांट की सुविधा भी शुरू होने जा रही है. ऐसे में इस मेडिकल कॉलेज को सुपर स्पेशियलिटी हॉस्पिटल के रूप में डेवलप करने के लिए ज्यादा बजट खर्च करने की आवश्यकता नहीं होगी.

haryananewstoday

मस्कार दोस्तों मेरा नाम सनी सिंह है. मैं हरियाणा न्यूज़ टुडे वेबसाइट पर एडमिन टीम से हूँ. मैंने मास्स कम्युनिकेशन से MBA और दिल्ली यूनिवर्सिटी से जर्नलिज्म का कोर्स किया हुआ है. मैंने खबरी एक्सप्रेस में भी बतौर कंटेंट राइटर काम किया है. फ़िलहाल मैं रियाणा न्यूज़ टुडे पर आपके लिए सभी स्पेशल केटेगरी की पोस्ट लिखता हूँ. आप मेरी पोस्ट को ऐसे ही प्यार देते रहे. धन्यवाद

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button