Join Telegram Group Join Now
WhatsApp Group Join Now
Haryana News

हरियाणा में ठंड ने तोड़ा रिकॉर्ड, माइनस 1.4 तक पहुंचा पारा

चंडीगढ़ :- हरियाणा में शीतलहर के चलते इस समय कोहरा कम है और धूप भी तेज चमक रही है। ऐसे में अधिकांश जिलों में दिन का अधिकतम तापमान 16 से 17 डिग्री के बीच रहता है। शीतलहर के चलते धूप तेज होने के बावजूद लोग ठंड से ठिठुर रहे हैं। 19 जनवरी के बाद अधिकतम तापमान 20 डिग्री सेल्सियस से ऊपर जाने का अनुमान है। 24 घंटे पहले रिकॉर्ड किया गया अधिकतम तापमान सामान्य से 2.5 डिग्री कम था। 24 घंटे में इसमें 0.9 डिग्री की बढ़ोतरी हुई है।

गंभीर स्थिति में न्यूनतम तापमान

रात का न्यूनतम तापमान लोगों को डरा रहा है। बीती रात रिकार्ड किया गया तापमान सामान्य से 3.1 डिग्री कम है। हिसार को छोड़कर प्रदेश के न्यूनतम तापमान में कोई बड़ा बदलाव नहीं हुआ है। नूंह में जहां तापमान 2.2 डिग्री पर पहुंच गया है वहीं हिसार में 24 घंटे में 2.1 डिग्री की कमी दर्ज की गई है।

कई जिले कड़ाके की ठंड की चपेट में हैं

हरियाणा में इन दिनों जिस तरह से न्यूनतम तापमान गिर रहा है। कई जिलों में लोग कड़ाके की ठंड का सामना कर रहे हैं। बीती रात 10 अलग-अलग जगहों पर न्यूनतम तापमान 2 डिग्री और उससे नीचे रिकॉर्ड किया गया। रात के तापमान में 2 डिग्री और दिन के तापमान में बढ़ोतरी से 5 जिलों में पाला पड़ रहा है।

हिसार में जहां माइनस 1.3 डिग्री पारा के साथ सर्दी का रिकॉर्ड टूट गया है। वहीं, महेंद्रगढ़ में न्यूनतम तापमान -0.8 डिग्री, नारनौल में 1.7 डिग्री है। रोहतक के भिवानी में भी तापमान में गिरावट दर्ज की गई। साथ ही गुरुग्राम में पारा 0.1 डिग्री पर आ गया है।

रत्ता मोहलदा में ठंड का कहर

महेंद्रगढ़ जिले का रत्ता मोहलदा गांव हरियाणा का सबसे ठंडा घर माना जाता है। यहां से आई जमा देने वाली पाला की तस्वीर अपने आप में इस बात की पुष्टि कर रही है. नारनौल में बुजुर्गों की एक कहावत है जो आज भी सच है, एक बेटे ने अपनी मां से पूछा कि मां जड़ (ठंडा) का घर कहां है तो मां ने जवाब दिया- बेटा रट्टा मोहलदा जाड़े का घर है। आज भी इस सत्य को प्रमाण की आवश्यकता नहीं है। यहां एक पौधे पर जमी पाला की तस्वीर यहां की ठंड की भयावहता बयां कर रही है।

गेहूं में फायदा, सरसों-सब्जियों में नुकसान

हरियाणा में कड़ाके की ठंड, शीतलहर और पाले का मिलाजुला असर फसलों पर देखने को मिल रहा है. जहां अगेती सरसों की फसल में फलियां बन रही हैं। वहीं पाले के कारण इनका विकास ठीक से नहीं हो पा रहा है। गेहूं में ठंड का ज्यादा नुकसान नहीं हुआ है। इसकी ग्रोथ पर कुछ असर पड़ने की आशंका जरूर है। सब्जियों में टमाटर और मटर को पाला और सर्दी का खासा नुकसान हो रहा है। कृषि विशेषज्ञों ने किसानों को पाले से फसलों को बचाने की एडवाइजरी जारी की है।

हरियाणा में नवीनतम मौसम पूर्वानुमान

चौधरी चरण सिंह हरियाणा कृषि विश्वविद्यालय, हिसार के कृषि मौसम विज्ञान विभाग के प्रमुख डॉ. मदन खीचड़ ने कहा कि हरियाणा में 18 जनवरी तक मौसम आमतौर पर शुष्क रहने और उत्तरी और उत्तर-पश्चिमी ठंडी हवाएं चलने का अनुमान है. इससे रात के तापमान में और गिरावट आने की संभावना है।

इस दौरान उत्तर-पश्चिम और दक्षिण जोन के हिसार, सिरसा, फतेहाबाद, भिवानी, महेंद्रगढ़, रेवाड़ी, गुरुग्राम, मेवात आदि जिलों में पाला पड़ने की संभावना है. दिन के तापमान में मामूली बढ़ोतरी होगी, लेकिन 19 जनवरी से पश्चिमी विक्षोभ के आंशिक प्रभाव से उत्तर-पश्चिम से पूर्व की ओर हवा चलने और आसमान में आंशिक बादल छाए रहने की संभावना है। जिससे रात के तापमान में फिर से बढ़ोतरी होने लगेगी।

Subhash Singh

नमस्कार मेरा नाम सुभाष सिंह है. मैं 2023 से हरियाणा न्यूज़ टुडे पर कंटेंट राइटर के रूप में काम कर रहा हूं. मैंने कॉमर्स से बी कॉम किया है. मेरा उद्देश्य है कि हरियाणा की प्रत्येक न्यूज़ आप लोगों तक जल्द से जल्द पहुंच जाए. मैं हमेशा प्रयास करता हूं कि खबर को सरल शब्दों में लिखूँ ताकि पाठकों को इसे समझने में कोई भी परेशानी न हो और उन्हें पूरी जानकारी प्राप्त हो. विशेषकर मैं हरियाणा हिस्ट्री, मौसम, जॉब, पॉलिटिक्स, बस, ट्रैन से संबंधित खबरें आप लोगों तक पहुँचाता हूँ.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button