ये हैं दुनिया की वो शापित चीजें, आज भी बरकरार है इनका रहस्य, जानकर आप भी रह जाएंगे हैरान

विज्ञान ने भले ही आज कितनी ही तरक्की कर ली हो लेकिन दुनिया में कई ऐसे रहस्य आज भी मौजूद है जिनके बारे में कोई नहीं जान पाया. ये रहस्य सदियों से ऐसे ही बने हुए हैं कोई भी इनके बारे में जान ही नहीं पाया.

आज हम आपको ऐसे ही कुछ रहस्यों के बारे में बताने जा रहे हैं जिनसे आज तक कोई पर्दा नहीं हटा पाया. इनके बारे में जानकर यकीनन आपकी रूह कांप जाएगी.

मौत की कुर्सी (Chair of Death)

हम जिस कुर्सी की बात कर रहे हैं वह इंग्लैंड के नार्थ यॉर्कशायर में जिसे शापित कुर्सी माना जाता है. ये कुर्सी थॉमस बस्बी नामक के एक शख्स की है जो बेहद खूंखार और खूनी इंसान था. दरअसल, साल 1802 में थॉमस को को अपने ससुर डैनियरल की हत्या के जुर्म में मौत की सजा दी गई थी. थॉमस बस्बी ने अपने ससुर का गला घोटकर मौत के घाट उतार दिया था. क्यूंकि वो उसकी पसंदीदा कुर्सी पर बैठे थे.

मरने से पहले बस्बी की आखिरी ख्वाहिश के बारे में उससे पूछा गया तो उसने कहा कि जो भी उसकी कुर्सी पर बैठेगा उसकी मौत हो जायेगी. ऐसा कहा जाता है कि अब तक करीब 63 लोगों की मौत इस कुर्सी पर बैठने की वजह से हो चुकी है. बता दें कि इस कुर्सी को तिरस्क म्यूजियम नामक एक म्यूजियम में ऊपर की ओर रखा गया है, जिससे कोई भी इस पर गलती से बैठ ना पाए.

क्राइंग व्बॉय पेंटिंग

इसके अलावा साल 1950 में गिओवन्नी ब्रेगोलिन ने एक ऐसी पेंटिंग बनाई. जिसके बारे में कहा जाता है कि इस शापित पेंटिंग को जिसने भी अपने घर में लगाने की गलती की तो उसके घर में आग लग जाती है. या फिर कही और आग लग जाती है. सबसे हैरान कर देने वाली बात तो यह है कि आग लगे उस घर में सबकुछ जल कर राख हो जाता है लेकिन इस तस्वीर को कुछ भी नहीं होता.

जिसे देख स्वाभाविक तौर पर लोग हैरान रह जाते हैं. 5 सितंबर 1985 को ‘द सन’ नामक ब्रिटिश अखबार की एक रिपोर्ट के मुताबिक, एक फायर-फाइटर ने इस बात का खुलासा किया कि वह जिस भी घर आग बुझाने के लिए जाते, वहां ये पेंटिंग मौजूद रहती थी. इन हादसों के चलते लोगों ने इस तरह की पेंटिंग रखना बंद कर दिया, जिसके बाद हादसों में कमी आने लगी.

Leave a Comment

Your email address will not be published.