हरियाणा में बनेगा एक और नेशनल हाईवे, NHAI की प्रक्रिया तेज

चंडीगढ़ :- हरियाणा में एक और नया राष्ट्रीय राजमार्ग बनाए जाने की उम्मीद जगी है। रेवाड़ी से महेंद्रगढ़ होते हुए हिसार तक नेशनल हाईवे ( National Highway ) बनाया जाना है। केंद्र की सैद्धांतिक मंजूरी के पश्चात इसकी आवश्यकता के अनुसार जमीन को लेकर सर्वे शुरू किया जाएगा। राजमार्ग प्राधिकरण ( Highway Authority ) की टीम ने इसको लेकर महेंद्रगढ जिला राजस्व अधिकारी कार्यालय से आवश्यक जानकारी ली है। सर्वे के बाद ही यह तय होगा इस मार्ग के अधिग्रहण की जरूरत होगी या नहीं। इस राजमार्ग के बनने के बाद महेंद्रगढ़ से हिसार के रास्ते पंजाब के लिए सीधी कनेक्टिविटी हो जाएगी। अभी केंद्र सरकार की तरफ से इस राजमार्ग के लिए सैद्धांतिक ही मंजूरी प्रदान की गई है, लेकिन बजट नहीं दिया है।

सैद्धांतिक सहमति के बाद फिलहाल तैयार डीपीआर के अनुसार राजमार्ग प्राधिकरण की तरफ से इसके लिए प्रस्तावित जमीन अधिग्रहण के साथ अन्य संभावनाओं को भी देखा जा रहा है। हालांकि महेंद्रगढ़ जिले में महेंद्रगढ़ रोड को पहले ही स्टेट हाईवे का दर्जा प्राप्त है, इसलिए जमीन अधिग्रहण की जरूरत बेहद कम पड़ेगी। इसके लिए पिछले राजमार्ग प्राधिकरण की टीम इससे संबंधित जमीन का सर्वे करने के लिए जिला राजस्व अधिकारी कार्यालय में भी आई थी और इससे जुड़े जानकारियां ली थी। यहां से जानकारी के पश्चात इसके लिए सर्वे का कार्य होगा।

अन्य जिलों से बढ़ेगी कनेक्टवीटी

फिलहाल इस राजमार्ग से संबंधित तमाम कामकाज राज्य सरकार ने एचएसआरडीसी जींद को सौंपा हुआ है। इसकी डीपीआर भी पहले एचएसआरडीसी की तरफ से ही तैयार की गई थी। अब केंद्र सरकार की तरफ से इसके लिए सैद्धांतिक मंजूरी के बाद इस राजमार्ग को लेकर उम्मीद जगी है। हालांकि अभी बजट घोषणा होना बाकि है और बजट घोषित होने के बाद ही यह धरातल पर उतरेगा। इस राजमार्ग के बन जाने के बाद अंबाला-चंडीगढ़ से भी निकटता हो जाएगी। फिलहाल रेवाड़ी तैयार हुए कोटपूतली-नारनौल-अंबाला ग्रीनफील्ड हाइवे से सीधे तौर पर नहीं जुड़ा है। इस राजमार्ग के बनने से यह सीधे ग्रीनफील्ड हाईवे से कनेक्ट हो जाएगा। हिसार-रेवाड़ी नेशनल हाईवे का निर्माण होने से दक्षिणी हरियाणा के महेंद्रगढ़, नारनौल, गुरुग्राम के अलावा पड़ोसी राज्य राजस्थान के अलवर, कोटपूतली, दौसा, कोटा बूंदी समेत आधा दर्जन जिलों के लिए पंजाब की दूरी कम होगी। पंजाब के धार्मिक स्थल स्वर्ण मंदिर व माता वेष्णो देवी मंदिर जाने वाले श्रद्धालुओं को आवागमन में आसानी होगी।

इन स्थानों पर होंगे आरओबी, बाईपास पुल व अंडरपास

सर्वप्रथम तैयार किए गए प्रोजेक्ट के तहत रेवाड़ी से हिसार के बीच इस राष्ट्रीय राजमार्ग पर छह आरओबी बनाए जाएंगे। इनमें तीन रेवाड़ी जिला में ही बनेंगे। ये आरओबी हिसार रेलवे लाइन पर, सतनाली रेलवे लाइन पर, महेंद्रगढ़ रेलवे लाइन पर, डहीना रेलवे लाइन पर तथा रेवाड़ी-महेंद्रगढ़ लाइन व रेवाड़ी-हिसार लाइन पर बनने वाले रेलवे ओवरब्रिज शामिल हैं। वहीं, विभिन्न 24 जगहों पर बाईपास फ्लाईओवर व अंडरपास बनाए जाने प्रस्तावित हैं। इनमें हिसार बाईपास, तोशाम बाईपास, स्टेट हाईवे पर बाईपास, तोशाम के आखिर में बाईपास, एनएच-324बी बाईपास, बाढड़ा पुल, एसएच-24 सतनाली बाईपास पुल, महेंद्रगढ़ बाईपास, एनएच-148बी बाइपास पुल, कुरावटा रोड पर बाईपास पुल, माजरा रोड पर बाईपास पुल, महेंद्रगढ़ के आखिर में बाईपास, कनीना के शुरू में बाईपास, गाढा रोड कनीना बाईपास पुल, एनएच 22 कनीना बाईपास पुल, करीरा रोड कनीना बाईपास पुल, कनीना के आखिर में बाईपास, डहीना में बाईपास, रेवाड़ी के शुरू में बाईपास, कोसली रोड पर बाईपास पुल, बूढ़पुर रोड पर बाईपास पुल तथा राजपुरा खालसा रोड पर बाईपास पुल शामिल हैं।

Leave a Comment

Your email address will not be published.