हरियाणा में आपात स्थिति में किसी भी पुलिस लाइन में उतारे जा सकेंगे हेलिकाप्टर, बनेंगे नाइट सुविधायुक्त हेलीपैड

चंडीगढ़ :- हरियाणा में आपात स्थिति में किसी भी पुलिस लाइन में हेलिकाप्टर उतारे जा सकेंगे. युद्ध व आपातकालीन स्थिति में हेलिकाप्टर की लैंडिंग सुविधा प्रदान करने के लिए प्रदेश सरकार ने प्रत्येक जिले में हेलीपैड बनाने की कवायद शुरू कर दी है. इन हेलीपैड पर रात्रि के समय लैंडिंग करने में किसी प्रकार की दिक्कत न हो, इसकी भी संपूर्ण व्यवस्था की जाएगी.

इस संबंध में शनिवार को उप मुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने नागरिक उड्डयन विभाग के अधिकारियों के साथ बैठक कर उन्हें आवश्यक दिशा-निर्देश दिए. साथ ही लैंडिंग सुविधा के लिए जिला पुलिस लाइन में हेलीपैड स्थापित करने की संभावना पर तेजी से कार्य करने के निर्देश दिए. आधारभूत ढांचा विकसित होने से युद्ध व आपातकालीन स्थिति में हेलिकाप्टर की लैंडिंग की जा सकेगी. पुलिस लाइन में बनने वाले हेलीपैड की सुरक्षा के भी पूरे इंतजाम रहेंगे.

उप मुख्यमंत्री ने बताया कि हाल ही में नागरिक उड्डयन मंत्रियों के सम्मेलन में आपात स्थिति से निपटने के लिए देश के हर जिले में एक हेलीपैड बनाने की आवश्यकता पर जोर दिया गया था. इस दिशा में हरियाणा सरकार ने आश्वस्त करते हुए सर्वप्रथम पहल करने की इच्छा व्यक्त की थी.

सम्मेलन में एयरपोर्ट सुरक्षा प्रशिक्षण के लिए राज्यों में संस्थान स्थापित करने पर भी चर्चा की गई थी. हर जिले में हेलीपैड स्थापित करने की योजना को सिरे चढ़ाने के लिए गृह विभाग और पुलिस महानिदेशक को आधारभूत ढांचा विकसित करने के लिए निर्देश दे दिए गए हैं.

उप मुख्यमंत्री ने कहा कि एयरपोर्ट सुरक्षा प्रशिक्षण देने के लिए हरियाणा में संस्थान स्थापित किया जाएगा. इसके लिए हिसार, सिरसा और पिंजौर में जगह चिह्नित की जाएगी. क्षेत्रीय संपर्क योजना उड़ान (उड़े देश का आम नागरिक) के तहत एयर कनेक्टिविटी को मजबूत करने के लिए अप्रैल 2023 से हिसार से नए मार्ग की पहचान हेतु सात अन्य राज्यों के साथ समझौता करने की कार्य योजना तैयार की जा रही है.

इस कार्य योजना के सफल होने से प्रदेश के नागरिकों को हवाई यात्रा करने की व्यापक सुविधा मिलेगी. उन्होंने महाराजा अग्रसेन अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे हिसार में निमार्णाधीन हवाई पट्टी व अन्य आधारभूत ढांचे पर फीडबैक लेते हुए हिसार-बरवाला मार्ग के लिए वैकल्पिक रोड बनाने की प्रक्रिया में तेजी लाने के निर्देश दिए.

Leave a Comment

Your email address will not be published.